ASI survey of Gyanvapi campus going on fast

ASI survey of Gyanvapi campus going on fast

वाराणसी में Gyanvapi campus में कोर्ट के आदेश के बाद तेजी से ASI के सर्वे का काम जारी है। आज सर्वे के चौथा दिन है लेकिन, Gyanvapi campus में ASI Team ने आज सुबह 10 बजे से ही सर्वे का काम शुरू कर दिया है इस सर्वे को लेकर समय में कुछ बदलावकिए गए हैं जो कि सावन के सोमवार को देखते हुए किया गया है, सावन के सोमवार को भारी संख्या में श्रद्धालु बाबा के दरबार आते है, जिसके बाद श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

ASI survey of Gyanvapi campus going on fast

बता दें की रविवार को ही Gyanvapi की सरंचना को पूरी तरह समझने के लिए सैटेलाइट के जरिए इसकी 3डी मैपिंग की गई थी। Gyanvapi campus के तीनों गुंबदों का सर्वे भी किया गया हैं। रविवार को सर्वे का काम सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक चला था। तो वही इस सर्वे के दौरान Gyanvapi में ASI के 58 लोग, हिन्दू पक्ष से 8 लोग और मुस्लिम पक्ष से तीन लोग मौजदू रहे और कोर्ट के आदेशानुसार सर्वे टीम को 2 सिंतबर तक इसकी रिपोर्ट भी देनी है। रविवार को हुए Gyanvapi campus के सर्वे में यहां की दीवारों में मंदिरों में दिखने वाली 20 से अधिक आले यानी दीवार में बने अलमारियां मिली है। इन आलों की संरचना व आसपास उभरे कुछ चिन्ह मिले हैं जिनकी 3डी मैपिंग की गई है और हिन्दू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन ने कहा कि गुंबदों का वैज्ञानिक परीक्षण किया गया है।

ASI survey of Gyanvapi campus going on fast

तहखानों की भी सफाई करा दी गई है। जिसके बाद टीम ने यहां की फोटोग्राफी और मैपिंग का काम भी किया। वहीं व्यास जी के तहखाने का भी सर्वेक्षण किया गया है उन्होंने कहा कि सर्वे के काम में और समय भी लग सकता है। सर्वे को लेकर मस्जिद कमेटी के सचिव सैयद मोहम्मद यासीन ने इस पर नाराजगी जताते हुए कहा कि सर्वे को लेकर मीडिया द्वारा कई तरह की अफवाहें फैलाई जा रही है कि यहां हिन्दू प्रतीक मिले हैं अगर इन्हें नहीं रोका गया तो मुस्लिम पक्ष इस सर्वे का बहिष्कार करेगा। यासीन ने कहा कि मीडिया द्वारा ये बातें फैलाई जा रही हैं कि मंदिर मं त्रिशूल, मूर्तियां और कलश मिले हैं जिससे मुस्लिम समाज आहत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here